[INSERT_ELEMENTOR id="7377"]

जब इस टेनिस खिलाड़ी को मैच के दौरान शख्स ने घोंप दिया था चाकू, देखें हमले का Video

मोनिका सेलेस (Monica Seles) का करियर उस समय उफान पर था, 19 साल की उम्र में कई रिकॉर्ड बना चुकी थीं, लेकिन इस हमले ने उनकी बदल दी जिंदगी.

Written By The Wolf Newz Editorial | Updated: July 19, 2020  08: 55 AM IST

When Tennis Player Monica Seles Stabbed During Hamburg Open
मोनिका सेलेस (Monica Seles)

मोनिका सेलेस (Monica Seles) जब टेनिस (Tennis) कोर्ट पर आती थीं तो उनके चिल्लाने की आवाज और जोरदार शॉट से प्रतिद्वंद्वी खिलाड़ियों की जान मुश्किल में आ जाती थी. Monica Seles ने 1990 में फ्रेंच ओपन जीता था, और वह ऐसा करने वाली सबसे कम उम्र खिलाड़ी थीं. 1991 में उन्होंने अपने दमदार खेल से दुनिया की नंबर एक खिलाड़ी स्टेफी ग्राफ से उनकी शीर्ष वरीयता छीन ली थी. मोनिका सेलेस पर 1993 में हमला हुआ था. मोनिका सेलेस पर हमला हैम्बर्ग ओपन के दौरान हमला हुआ था, उस समय तक वह आठ ग्रैंड स्लैम टाइटल जीत चुकी थीं. यही नहीं दुनिया में नंबर एक खिलाड़ी भी थीं.

मोनिका सेलेस (Monica Seles) पर हमला हुआ 1993 में. बात 30 अप्रैल, 1993 की है, उस समय मोनिका सेलेस 19 साल की थीं. वह हैम्बर्ग ओपन में मैगडलेना मलीवा के खिलाफ कर रही थीं. मैच का ब्रेक था और वह कोर्टसाइड पर बैठी थीं. तभी 38 वर्षीय एक शख्स ने फेंस को कूदकर मोनिका सेलेस के कंधे के बीच चाकू घोंप दिया. इस शख्स को पकड़ लिया गया. लेकिन इस घटना ने सेलेस पर बहुत ही गहरा असर डाला. मोनिका शारीरिक चोट से तो उबर गईं लेकिन मानसिक आघात से निकलने में उन्हें दो साल लग गए.

जिस शख्स ने Monica Seles पर हमला किया था, उसे मानसिक रूप से डिस्टर्ब बताया गया था और उसका उद्देश्य सिर्फ मोनिका सेलेस को घायल करना था, मारना नहीं. हालांकि इस हादसे के बाद मोनिका सेलेस गेम में पहला जैसा जलवा कायम नहीं कर सकीं और 2008 में उन्होंने रियाटरमेंट का फैसला लिया.

[INSERT_ELEMENTOR id="7318"]
[INSERT_ELEMENTOR id="7072"]