मिलिए Lion Queen से जो अब तक 300 शेरों को करवा चुकी हैं रेस्क्यु

[INSERT_ELEMENTOR id="7536"]

मिलिए Lion Queen से जो अब तक 300 शेरों को करवा चुकी हैं रेस्क्यु

आईएफएस (IFS) अफसर परवीन कासवान (Parveen Kaswan) ने लॉयन क्वीन (Lion Queen) रसिला वाढेर से मुलाकात करवाई है.

Written By WolfNewz Editorial | Updated: Aug 11, 2020 10:00 AM IST

Meet Lion Queen Rasila Vadher From Gir Who Saved 300 Lions 500 Leopards crocodiles pythons
लॉयन क्वीन (Lion Queen) रसिला वाढेर (फोटोः https://twitter.com/CMOGuj/status/1141246608085905408)

आईएफएस (IFS) अफसर परवीन कासवान (Parveen Kaswan) की पोस्ट बहुत ही कमाल की होती हैं. आईएफएस परवीन न सिर्फ जंगलों में रहने वाले जीव-जंतुओं से रू-ब-रू कराते हैं बल्कि वह जंगल के उन हीरो से भी हमारी मुलाकात कराते हैं जो जीव-जंतुओं की रक्षा में अपनी जिंदगी झोंक रहे हैं. परवीन कासवान ने इस बार लॉयन क्वीन (Lion Queen) से मुलाकात कराई है. लॉयन क्वीन गिर के जंगलों में रहती है. इस तरह से परवीन कासवान का यह ट्वीट खूब पढ़ा जा रहा है और बाकी लोगों के लिए काफी इंस्पायरिंग भी है.

आईएफएस अफसर परवीन कासवान (Parveen Kaswan) ने अपने ट्वीट में लिखा है, ‘मिलें 36 वर्षीय रसिला वाढेर से जो गिर के जंगलों में वन अधिकारी हैं. वह अभी तक 1000 जानवरों को बचाने वाले अभियान का हिस्सा रह चुकी हैं, जिसमें 300 शेर, 500 तेंदुए, मगरमच्छ और अजगर शामिल हैं. वह वन्यजीवों को कुओं से बचा चुकी हैं और उन्हें काबू करके भी दिखाया है. वह जंगल में जंगल के राजा से भी ज्यादा आत्मविश्वास के साथ चलती हैं.’ यह जानकारी परवीन कासवान ने वर्ल्ड लॉयन डे पर दी है.

इससे पहले गुजरात के सीएमओ ने भी रसिला वाढेर (Rasila Vadher) को लेकर एक ट्वीट किया था और उनकी जमकर तारीफ भी की थी. सीएमओ गुजरात ने अपने ट्विटर हैंडल पर लिखा है, ‘मिलें रसिला वढेर से (Gir First Woman Guard), वह पहली महिला हैं जिन्हें गुजरात सरकार के वन एवं पर्यावरण विभाग ने गिर नेशनल पार्क की सुरक्षा का जिम्मा सौंपा. वह अभी तक 11 से ज्यादा जानवरों को रेस्क्यु करवा चुकी हैं. उन्होंने अपनी बहादुरी का परिचय दिया है. उनके जज्बे और वन्य जीवों को लेकर प्रेम को सलाम.’

[INSERT_ELEMENTOR id="7318"]
[INSERT_ELEMENTOR id="7342"]
[INSERT_ELEMENTOR id="7072"]